Govt. Schemes Latest News

Mukhyamantri Bal Sahayata Yojna 2021

Mukhyamantri Bal Sahayata Yojna 2021 कोरोना संक्रमण से माता पिता की मृत्यु के कारण अनाथ हुए बच्चों को प्रतिमाह 1500 रुपए मिलेंगे। यह राशि बच्चों को 18 वर्ष की उम्र होने तक मिलेगी। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने यह घोषणा की है। साथ ही ऐसे बच्चों की देखरेख और पढ़ाई को लेकर भी अहम फैसले हुए हैं। मुख्यमंत्री ने रविवार को ट्वीट कर स्वयं इसकी जानकारी दी है।

Mukhyamantri Bal Sahayata Yojna 2021

Mukhyamantri Bal Sahayata Yojna 2021

मुख्यमंत्री के अनुसार ऐसे बच्चे-बच्चियां जिनके माता-पिता दोनों की मृत्यु हो गई है जिनमें कम से कम एक की मृत्यु कोरोना से हुई हो उनको बाल सहायता योजना के अंतर्गत राज्य सरकार द्वारा 18 वर्ष तक का होने तक ₹1500 प्रतिमाह दिया जाएगा। साथ ही जिन अनाथ बच्चों के अभिभावक नहीं है उनकी देखरेख बाल गृह में की जाएगी। ऐसी अनाथ बच्चियों का कस्तूरबा गांधी बालिका आवासीय विद्यालय में प्राथमिकता पर नामांकन कराया जाएगा।

हमारे व्हाट्सएप ग्रुप में शामिल होने के लिए यहां क्लिक करें : Click Here

राज्य में अब तक विभिन्न कारणों से अनाथ हुए 1332 बच्चों की पहचान की गई है। जिला बाल संरक्षण इकाई से कराई गई पहचान के दौरान कोरोना पीड़ित माता-पिता दोनों के मृत होने या माता के पहले से मृत होने और फिर पिता की मृत्यु संक्रमण के कारण हो जाने अथवा पिता के पहले से मृत होने एवं बाद में माता के भी संक्रमण से मौत होने पर अनाथ हुए बच्चों को चिन्हित किया गया है। हिना अनाथ बच्चों को बाल सहायता योजना के तहत ₹1500 मासिक सहायता दी जाएगी। अन्य कारणों जैसे दुर्घटना या आत्महत्या जैसे कारणों से अनाथ हुए बच्चों को अलग से चिन्हित किया जाएगा एवं उन्हें दूसरी योजना के तहत सहायता दी जाएगी। समाज कल्याण विभाग के अनुसार बाल सहायता योजना के तहत एपीएल-बीपीएल का कोई अंतर नहीं रखा गया है। पूर्णा संक्रमण से माता पिता की मौत के बाद अनाथ हुए सभी बच्चों को यह सहायता दी जाएगी

PM-CARES for Children scheme 2021

rkexam.com

Leave a Comment

You cannot copy content of this page